आज अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट लॉन्च करेगा ISRO, 24 घंटे हो सकेगी पृथ्वी की निगरानी l


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) दुनिया में एक बार फिर अपनी तकनीक का लोहा मनवाने जा रहा है। आज दोपहर 3 बजकर 2 मिनट पर इसरो PSLV-C49 के जरिए 10 उपग्रहों (Satellites) को लॉन्च करेगा। इसमें से 9 अंतरराष्ट्रीय उपग्रह हैं, जबकि एक भारत का अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट (EOS-01) है। प्रक्षेपण की उलटी गिनती शुक्रवार को शुरू हो गई है।


बता दें कि जिन 10 उपग्रहों की आज लॉन्चिंग होनी है उनमें से भारत का एक, लिथुआनिया का एक, लक्समबर्ग के चार और अमेरिका के चार सैटेलाइट हैं। दोपहर 3 बजकर 2 मिनट पर इन सभी सैटेलाइट्स को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया जाएगा। कोरोना वायरस महामारी के बीच भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का यह इस साल का पहला अंतरिक्ष मिशन है।



बता दें कि 'अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट' 'अर्थ ऑब्जरवेशन रिसेट सैटेलाइट' का ही एक एडवांस्ड सीरीज है। इसके जरिए बादलों के बीच से भी पृथ्वी की साफ तस्वीर खींची जा सकती है। यह सैटेलाइट दिन के अलावा रात में भी तस्वीरें खींचने में सक्षम है। इसमें सिंथेटिक अपर्चर रडार लगा हुआ है, जिससे किसी भी मौसम में पृथ्वी पर नजर रखी जा सकती है।

Post a comment

0 Comments